Posts

Showing posts with the label चोरी की शायरी

learn to compromise with yourself

Image
 अपनों के साथ हमेशा *समझौता करना सीखिए* । क्योंकि थोड़ा सा झुक जाना किसी भी रिश्ते को हमेशा के लिए तोड देने से ज्यादा बेहतर है। www.mohitbhatiadvocate.com 

ऐ वफ़ा, तुने मोहब्बत से ऐसा क्या कहा...

Image
ऐ वफ़ा,  तुने मोहब्बत से ऐसा क्या कहा... के  पतझड़ में बहार आ गाई ..!!